Amazing World

ये है दुनिया के 15 सबसे छोटे देश – Top 15 Smallest Countries in World in Hindi

Top 15 smallest countries of World

दोस्तों ये दुनिया बहुत बड़ी है, जिसमें आधिकारिक तौर पर कुल 195 देश है। इनमें से 193 देश United Nations (संयुक्त राष्ट्र) के सदस्य है और इन्हे ही वास्तव में देशों की गिनती में रखा जाता है। लेकिन इनके अलावा 2 देश और है जो United Nations के सदस्य देश नहीं है। ये देश है – Holy See या Vatican City तथा State of Palestine. इस प्रकार से देखा जाये तो दुनिया में आधिकारिक तौर पर 195 ही है। लेकिन रुकिए जनाब, अगर हम इसमें उन भू भागों को भी जोड़े जिन पर दूसरे देशों का अधिकार है जैसे – Aruba, Christmas Island, Isle of Man, Hong Kong आदि तो दुनिया में कुल 247 देश है।

अब इनमें से कुछ देश क्षेत्रफल के लिहाज से बहुत बड़े है तो वहीं कुछ देश ऐसे भी हैं, जो चंद किलोमीटर के दायरे में फैले हैं। दुनिया के सबसे बड़े देशों के बारे में तो सब लोग जानते होगें पर क्या कभी आपने दुनिया के सबसे छोटे देशों के बारे में जानने की कोशिश की है कि दुनिया के सबसे छोटे देश कौन-कौन से हैं और उनकी जनसंख्या व् क्षेत्रफल कितना हैं? आप किसी देश के बारे में कुछ पढ़ रहे हों पर ठीक उसी वक़्त आपको लगे कि अरे, ये देश तो मेरे गांव से भी छोटा है, गांव क्या, हमारे मोहल्ले से भी छोटा है। तो आपकी कैसी प्रतिक्रिया होगी? आपने कभी सोचा है दुनिया के छोटे देश कितने छोटे होंगे जानकर हैरानी होगी की दुनिया का सबसे छोटा देश आपके मोहल्ले से भी छोटा है और एक देश ऐसा भी है जो समुद्र पर बने दो खंभों पर टिका हुआ है तो दोस्तों, AmazingDuniya.Com आज आपको दुनिया के 10 ऐसे सबसे छोटे देशों के बारे में बता रहा है, जिनके बारे में आप सोच भी नहीं सकते।

 

Top 15 Smallest Countries of the World –

15. पलाउ (Palau) – 458 Km2

Smallest Country 15 Palau Island

पश्चिमी प्रशांत महासागर में स्थित इस देश का आधिकारिक नाम पलाउ गणराज्य (The Republic of Palau है। यह फिलीपीन्स पूर्व दक्षिण में स्थित है। यह माइक्रोनेशियन द्वीपसमूह आठ बड़े द्वीपों (Islands) और कुछ 250 टापुओं (Islets) से मिलकर बना है। इस देश का सबसे अधिक आबादी वाला शहर कोरोर (Koror) द्वीप है जबकि इस देश की राजधानी और यहां का प्रमुख शहर न्गेरुल्मुड (Ngerulmud) है। यहां की राष्ट्रीय भाषा अंग्रेजी और पलायुन है लेकिन कहीं कहीं जापानी भाषा का भी प्रयोग क्षेत्रीय भाषा के रूप में किया जाता है। इस देश का कुल क्षेत्रफल 458 वर्ग किलोमीटर तथा कुल आबादी 20000 के करीब हैं। विश्व के सबसे छोटे देशों में यह देश 15वें नंबर पर आता है।

14. अण्टीगुआ और बारबूडा (Antigua and Barbuda) – 442 Km2

Smallest Countery 14-Antigua and Barbuda

यह देश उत्तरी अमेरिका महाद्वीप के केरिबियन क्षेत्र में कैरिबियन सागर और आंध्र महासागर के बीच में स्थित है। इस देश की राजधानी, सबसे बड़ा बंदरगाह और मुख्य शहर सेंट जोन्स (St. John’s) है। इस देश की राष्ट्र भाषा अंग्रेजी है। यह देश चट्टान-रेखीय समुद्र तटों, वर्षावनों और रिसॉर्ट के लिए जाना जाता है तथा इसने पर्यटन के क्षेत्र में अंतररष्ट्रीय स्तर पर अपनी एक अलग पहचान बनाई है। इस देश का कुल क्षेत्रफल 442 वर्ग किलोमीटर तथा कुल जनसंख्या लगभग 81,799 है। विश्व के सबसे छोटे देशों में यह देश 14 वें नंबर पर आता है।

13. बारबाडोस (Barbados) – 0.44 Km2

Smallest Country13-Barbados

बारबाडोस एक पूर्वी कैरेबियाई द्वीप और एक स्वतंत्र राष्ट्र है, जो प्रशांत महासागर में उत्तरी अमेरिका महाद्वीप अन्तर्गत आता है। ऐसा कहा जाता है कि यह देश गुलामों के वजह से आबाद हुआ था, जो भारत और अफ्रीका से अंग्रेजों द्वारा लाये गए थे। इसके पड़ोसी देशों में त्रिनिदाद, टोबैगो, सेंट विंसेंट व द ग्रेनाजिनस और सेंट लुसिया शामिल हैं। इस देश की राजधानी ब्रिजटाउन है। यहां की राष्ट्रीय भाषा अंग्रेजी है परन्तु भारतीयों के बसे होने के वजह से यहां हिंदी और भोजपुरी भी बोली जाती है। महज 430 वर्ग किमी में फैले इस देश की आबादी 2,79,000 के करीब है। विश्व के सबसे छोटे देशों में यह 13 वें स्थान पर आता है।

12. सेंट विन्सेन्ट और ग्रेनाडाइन्स (Saint Vincent and the Grenadines) – 389 Km2

Smallest Country 12 Saint Vincent and Grenadines

यह देश भी उत्तर अमेरिका महाद्वीप के दक्षिणी कैरिबियन क्षेत्र में ही स्थित है। इसमें कुल 32 छोटे ख़ूबसूरत कैरिबियन द्वीपों की एक श्रृंखला शामिल है। सेंट विन्सेन्ट (Saint Vincent) इस देश का मुख्य द्वीप है। किंगस्टाउन (Kingstown) यहां की राजधानी, प्रमुख बंदरगाह और प्रमुख शहर है। अंग्रेजी यहां की मुख्य भाषा मानी जाती है। यह देश नौका से भरे हुए बंदरगाहों, आकर्षक निजी द्वीपों, ज्वालामुखीय परिदृश्य और सफेद रेत समुद्र तटों के लिए जाना जाता है। इस देश का कुल क्षेत्रफल 389 वर्ग किलोमीटर जबकि इसकी जनसंख्या लगभग 103,000 है। यह देश दुनिया का 12वां सबसे छोटा देश माना जाता है।

11. ग्रेनाडा (Grenada) – 344 Km2

यह देश कैरिबियाई सागर के दक्षिणी किनारे पर स्थित द्वीपीय देश है, जो अन्य छोटे 6 द्वीपों से मिलकर बना हुआ है। त्रिनिदाद और टोबैगो इसके पडोसी देश हैं। Grenada की राजधानी सेंट जॉर्ज (St. George’s) है। अंग्रेजी इस देश की मुख्य भाषा है। इसका मुख्य द्वीप कई जायफल बागानों का घर है तथा यही कारण है कि यह छोटा सा देश मसालों के लिए प्रसिद्ध है। इस देश का कुल क्षेत्रफल 344 वर्ग किलोमीटर है और जनसंख्या लगभग 110,000 है। दुनिया के सबसे छोटे देशों में यह देश 11 वें पायदान पर आता है।

10 माल्टा (Malta) – 316 Km2

smallest country malta

Malta सिसिली और उत्तरी अफ्रीकी तट के बीच मध्य भूमध्यसागरीय द्वीपसमूह है। Malta यूरोपीय महादीप का एक विकसित देश माना जाता है और इसे Republic of Malta के नाम से भी जाना जाता है। इस देश की राजधानी वलेत्ता (Valletta) है, जो मात्र 0.8 वर्ग किमी में फैली है तथा यूरोप की सबसे छोटी राष्ट्रीय राजधानी है। माल्टाई यहां की मुख्य भाषा है। जनसंख्या के लिहाज से देखें तो इस देश की आबादी 423,282 हैं, जो अन्य छोटे देशों की तुलना में ज्यादा है। इस देश का कुल क्षेत्रफल 316 वर्ग किलोमीटर है। माल्टा विश्व के सबसे छोटे देशों में 10 वें स्थान पर आता है।

9. मालदीव (Maldives) – 289 Km2

Smallest Country 8-Maldeev

मालदीव को आधिकारिक तौर पर मालदीव गणराज्य (Republic of Maldives) भी कहा जाता है, जो हिंद महासागर में स्थित एक छोटा सा देश है। हिन्द महासागर में स्थित होने की वजह से इस देश को हिंद महासागर का मोती भी कहा जाता है। इस देश की गिनती भले ही दुनिया के छोटे देशों में होती है, लेकिन यह देश पर्यटन के लिहाज से दुनिया के प्रसिद्ध देशों में गिना जाता है। माले इस देश की राजधानी है। 298 वर्ग किलोमीटर में फैले इस देश की कुल आबादी करीब 345,023 हैं। वैसे यह देश जनसंख्या और क्षेत्रफल के हिसाब से एशिया का सबसे छोटा देश माना जाता है। यह दुनिया का 9वां सबसे छोटा देश कहा जाता है

8. सेंट किट्स एवम नेविस (Saint Kitts and Nevis) – 261 Km2

Smallest Country 7-Saint Kitts and Nevis

सेंट किट्स एंड नेविस (Saint Kitts and Nevis) एक दो-द्वीपीय राष्ट्र है जो अटलांटिक महासागर और कैरेबियन सागर के बीच स्थित है। इसे Federation of Saint Christopher and Nevis के नाम से भी जाना जाता है। इसमें बड़ा द्वीप Saint Kitts है जिस पर देश की राजधानी और प्रमुख शहर बस्सेटर (Basseterre) स्थित है। इस देश की राष्ट्रीय भाषा अंग्रेजी है। पर्यटन और खेती यहां के लोगों की आय का प्रमुख जरिया है। यह देश बादलों में डूबे पहाड़ों और सफ़ेद समुद्र तटों के लिए जाना जाता है। इस देश का क्षेत्रफल 261 वर्ग किलोमीटर और जनसंख्या लगभग 55000 के करीब हैं। क्षेत्रफल और जनसंख्या के लिहाज से उत्तरी अमिरका महाद्वीप का सबसे छोटा देश है। विश्व के सबसे छोटे देशों में यह देश 15वें नंबर पर आता है।

7. मार्शल आइलैंड (Marshall Island) – 181 Km2

Smallest Country 7-Marshall Island

मार्शल द्वीप (Marshall Islands) हवाई और फिलीपींस के बीच मध्य प्रशांत महासागर में ज्वालामुखीय द्वीपों और प्रवाल भित्तियों (Coral Atolls) की एक विशाल श्रृंखला हैं। यह देश लगभग 1156 छोटे बड़े द्वीपों में बंटा हुआ है। इसे आधिकारिक तौर पर Republic of the Marshall Islands कहा जाता है। यह देश अमेरिका से अलग होकर 1986 में अस्तित्व में आया था। लेकिन इस देश की आर्थिक और बाहरी सुरक्षा का जिम्मा आज भी अमेरिका के पास है। नारू और किरिबाती इसके पड़ोसी देश हैं। इस देश की राजधानी मजूरो (Majuro) है। इसका क्षेत्रफल 181 वर्ग किलोमीटर है और यहाँ की कुल जनसंख्या 54000 के करीब है। विश्व के सबसे छोटे देशों में यह देश 7 वें नंबर पर आता है।

6. लिक्टनस्टीन (Liechtenstein) – 160.4 Km2

Smallest Country 6-Liechtenstein

पश्चिमी यूरोप में स्थित इस देश का आधिकारिक नाम Principality of Liechtenstein है। इस देश की सीमाएं स्विट्जरलैंड और ऑस्ट्रिया से मिलती हैं। इस देश की राजधानी वादुज (Vaduz) है और सचान (Schaan) इस देश का सबसे बड़ा और प्रमुख शहर है। यहां की प्रमुख भाषा जर्मन है। इसके बारे में शायद ही आपने सुना हो लेकिन यह प्रति व्यक्ति आय और जीडीपी के मामले में विश्व का नंबर वन देश है। इस देश के बारे में कहा जाता है कि कर के मामले में यहां के लोग बहुत ईमानदार हैं, जिस कारण यहां की वित्तीय व्यवस्था बहुत मजबूत रहती है। 160.4 वर्ग किलोमीटर क्षेत्रफल में फैले इस देश की जनसंख्या करीब 36925 के आस पास है। विश्व के सबसे छोटे देशों में यह देश 6 वें नंबर पर आता है।

5. सैन मैरिनो (San Marino) – 61 Km2

Smallest Country 5- San Marino

सैन मैरिनो यूरोप के सबसे पुराने देशों में से एक माना जाता है जिसकी खोज सन 301 में की गई थी। इसका आधिकारिक नाम Republic of San Marino है। यह देश इटली के ठीक बींचो-बीच स्थित है अतः यहाँ इतालवी (Italian) भाषा बोली जाती है और यही इस देश की राष्ट्रीय भाषा है। पहाड़ी मोंटे टिटनो (Monte Titano) की ढलानों पर इस देश की राजधानी और प्रमुख शहर सैन मैरिनो (City of San Marino) स्थित है, जो कि मध्ययुगीन दीवार वाले पुराने शहर और संकीर्ण पत्थर की सड़कों के लिए जाना जाता है। इसका सबसे बड़ा शहर सेररावल्ले (Serravalle) है। सैन मैरीनो जीडीपी के मुताबिक दुनिका सबसे अमीर देश है। इस देश की अर्थव्यवस्था को बनाये रखने में पर्यटन, वित्त, उद्योग और सेवा संसाधन प्रमुख है। सेररावलले इस देश का प्रमुख नगर है। बता दें कि 61 वर्ग किलोमीटर में फैले इस देश की जनसंख्या तक़रीबन 31,448 है। विश्व के सबसे छोटे देशों में यह देश 5 वें नंबर पर आता है।

4. तुवालु (Tuvalu) – 26 Km2

Smallest Country 4-Tuvalu

तुवालु आस्ट्रेलिया के पूर्वोत्तर में व दक्षिणी प्रशांत महासागर क्षेत्र में नौ छोटे द्वीपों का एक समूह है, जो 1978 में ब्रिटेन की आधीनता से आजाद हुआ था। यह देश 9 द्वीपों पर सिमटा हुआ है, जिनमें से 6 प्रवाल द्वीप (atolls islands) और 3 चट्टानीय द्वीप (reef islands) हैं। इस देश में केवल एक हवाई अड्डा है जो फ़ुनाफुटि (Funafuti) द्वीप में स्थित है, जो कि इस देश की राजधानी भी है। यहाँ मुख्यतः तुवालुअन (Tuvaluan) तथा अंग्रेजी भाषा बोली जाती है। इस देश के आय के प्रमुख साधन पर्यटन, नौकायान और फॉस्फेट खनन है। इस देश का क्षेत्रफल मात्र 26 वर्ग किलोमीटर है और आबादी लगभग 10,373 है। क्षेत्रफल के अनुसार यह दुनिया का चौथा सबसे छोटा देश है जबकि जनसंख्या की दृष्टि से यह दुनिया का तीसरा कम जनसंख्या वाला देश माना जाता है।

3. नौरु (Nauru) – 21.3 Km2

Smallest Country 3-Nauru

नौरु (Nauru) को आधिकारिक तौर पर Republic of Nauru के नाम से जाना जाता है। Nauru प्रशांत महासागर के बीचों-बीच बसा हुआ विश्व का सबसे छोटा द्वीप है। इस देश के बारे में सबसे खास बात यह है कि ना तो इसकी खुद की कोई सेना (Army) है और ना ही इसकी कोई राजधानी (दुनिया का एक मात्र राष्ट्र) है। यह दुनिया का सबसे छोटा स्वतंत्र गणराज्य देश भी है। यह पूरा द्वीप Coral Reefs (मूँगा चट्टानों) से घिरा हुआ है और सफेद रेतीले तटों के लिए जाना जाता है। नौरु में फॉस्फेट खनन, नारियल उत्पाद और Banking मुख्य उद्योग है। यह देश फॉस्फेट खनन के लिए मुख्य रूप से जाना जाता था लेकिन ये अब धीरे धीरे समाप्त हो रहे है। इस देश का क्षेत्रफल महज 21.3 वर्ग किलोमीटर तथा कुल आबादी 10,320 के करीब है। नौरु दुनिया का तीसरा सबसे छोटा देश है।

2. मोनैको (Monaco) – 1.95 Km2

मोनाको (Monaco) देश यूरोप महाद्वीप में फ्रांस और इटली के बीच समुद्र के किनारे पर बसा हुआ है। यह देश तीन तरफ फ्रांस से और एक तरफ भूमध्य सागर से घिरा हुआ है। यह एक स्वतंत्र राष्ट्र है और इसका आधिकारिक नाम Principality of Monaco है। इस देश में केवल एक नगरपालिका है और मोन्टे कार्लो (Monte Carlo) इसका मुख्य शहर है। इस देश की राष्ट्रीय भाषा फ़्रांसीसी है। समुद्र किनारे बसे होने के कारण यहां की अर्थव्यवस्था बहुत अच्छी है। इस देश में दुनिया के किसी भी देश से ज्यादा प्रति व्यक्ति करोड़पति हैं। यह दुनिया में सबसे अधिक जनसंख्या घनत्व वाला देश है। इस देश में कई बुटीक,नाइटक्लब,लिक्सी होटल और रेस्तरां है। यह देश पर्यटन के लिहाज से भी काफी आगे है। मात्र 2.02 वर्ग किलोमीटर के क्षेत्रफल में फैले इस देश की कुल आबादी लगभग 37831 है। 20 सालों से लगातार समुद्री लहरों के कारण अब इसका क्षेत्रफल महज 1.95 वर्ग किलोमीटर ही रह गया है। Monaco क्षेत्रफल की दृष्टि से दुनिया का दूसरा सबसे छोटा देश है।

1. वैटिकन सिटी (Vatican City) – 0.44 Km2

Smallest Country 1-Vatican City

वेटिकन सिटी यूरोप महाद्वीप में मौजूद दुनिया का सबसे छोटा देश है। रोम, इटली से घिरे इस देश को “The Holly See” के रूप में भी जाना जाता है। यह देश सिर्फ़ 0.44 वर्ग किलोमीटर के क्षेत्रफल में बसा हुआ है। यक़ीन मानिये यह आपके एक गांव से भी छोटा हैं। इतना छोटा कि हमारा राष्ट्रपति भवन परिसर ही उससे बडा होगा। दरअसल इस देश की पूरी सीमा करीबन 2 किलोमीटर है। आप 20 मिनट में इसके एक कोने से दूसरे कोने तक पैदल जा सकते हैं, यकीं करना थोड़ा मुश्किल है लेकिन ये हकीकत है। इसके बावजूद इस देश को अंतर्राष्ट्रीय मान्यता प्राप्त है। इस देश के अपने सिक्के, अपना डाक विभाग और अपना रेडियो आदि हैं. ईसाई समुदाय के प्रसिद्ध रोमन कैथोलिक चर्च सेंट पीटर बेसिलिका (दुनिया का सबसे बड़ा कैथोलिक चर्च) के होने और धर्म गुरु पोप की वजह से यह देश पूरी दुनिया में काफी प्रसिद्ध है। इस देश की अर्थव्यवस्था या मुख्य आय भी रोमन कैथोलिक चर्च के स्वैच्छिक योगदान के सदस्यों से आती है। यहां के गिरजाघर, मकबरे, संग्रहालय इत्यादि आकर्षण का केंद्र हैं। इस देश में कई ऐसी शानदार की इमारते हैं जो लोगों का ध्यान अपनी ओर खींचती हैं। कई हॉलीवुड फिल्मों में भी यह बतौर सीन दिखाया जा चुका है। आपको जानकर हैरत होगी कि इस देश की जनसंख्या महज 842 है। लेकिन इस देश में काम करने वाले लोगों की कुल संख्या 1 हजार के आस-पास है, जो दूसरे देशों से आए हैं।

27 लोगों का देश – सीलैंड (Sealand)

Country with 27 People - Sealand

इन सभी देशों के अलावा एक देश ऐसा भी है जो समुद्र में केवल 2 खम्भों पर टिका है। जी हाँ जिसकी कुल जनसंख्या मात्र 27 है। यह इंग्लैंड के समुद्री तट से लगभग 10 किलोमीटर की दूरी पर मौजूद है जिसका नाम सीलैंड है। सीलैंड खंडहर हो चुके समुद्री किले पर टिका हुआ है। जिसे दूसरे विश्व युद्ध के दौरान ब्रिटेन के दुश्मन देशों पर नजर रखने के लिए बनाया था। माइक्रोनेशन कहे जाने वाले सीलैंड पर हमेशा अलग-अलग देशों का कब्ज़ा रहा है। हालांकि इसे देश के तौर पर कभी भी अंतरराष्ट्रीय मान्यता नहीं मिली। लेकिन फिर भी यह खुद को अलग राष्ट्र मानता है। सीलैंड का कुल क्षेत्रफल मात्र ढाई सौ वर्ग मीटर है।

भले ही ये देश जनसंख्या और क्षेत्रफल के दृष्टिकोण से छोटे हों, लेकिन इनके पास अपनी संस्कृति और स्वायत्ता है और इस लिहाज से यह देश बड़े देशों से कम नहीं माने जा सकते हैं। अपनी संस्कृति को बचाए रखना अपने आप में बड़ी चुनौती होती है और इस दृष्टि से उपरोक्त वर्णित सभी देश उत्तम हैं। इसके साथ ही प्रकृति को नजदीक से महसूस करने के लिए भीड़-भाड़ रहित इन देशों से अच्छी जगह कोई हो ही नहीं सकती है।

।। धन्यवाद ।।

तो दोस्तों कैसी लगी आपको यह Amazing Duniya की Amazing PostTop 15 Smallest Countries of the World के बारे में“? कृपया Comment Box में Comment करके जरूर बताएं। साथ ही किस प्रकार की Posts आप यहाँ पढ़ना चाहेंगे या इस Website को बेहतर बनाने के लिए अपने सुझाव भी दे। अगर यह Amazing Post आपको पसन्द आई हो तो इसे अपने दोस्तों और परिचितों के साथ share करना ना भूलें।

दोस्तों इन 15 देशों के साथ ही मैंने आपकी जानकारी के लिए 50 सबसे छोटे देशों (Top 50 Smallest Countries) की list भी Post की है जो इस प्रकार से है –

The 50 Smallest Countries In The World

Rank Country Area (km2)
1 Vatican City 0.44
2 Monaco 2.02
3 Nauru 21
4 Tuvalu 26
5 San Marino 61
6 Liechtenstein 160
7 Marshall Islands 181
8 Saint Kitts and Nevis 261
9 Maldives 298
10 Malta 316
11 Grenada 344
12 Saint Vincent and the Grenadines 389
13 Barbados 431
14 Antigua and Barbuda 442
15 Seychelles 455
16 Palau 459
17 Andorra 468
18 Saint Lucia 606
19 Singapore 687
20 Micronesia 702
21 Tonga 717
22 Dominica 751
23 Bahrain 765
24 Kiribati 811
25 Sao Tome 964
26 Comoros 1,862
27 Mauritius 2,030
28 Luxembourg 2,586
29 Samoa 2,821
30 Cape Verde 4,033
31 Trinidad and Tobago 5,128
32 Brunei 5,265
33 Cyprus 9,241
34 Gambia 10,000
35 Bahamas 10,010
36 Lebanon 10,230
37 Jamaica 10,831
38 Qatar 11,586
39 Vanuatu 12,189
40 Montenegro 13,452
41 East Timor 14,874
42 Swaziland 17,204
43 Kuwait 17,818
44 Fiji 18,274
45 Slovenia 20,151
46 Israel 20,330
47 El Salvador 20,721
48 Belize 22,806
49 Djibouti 23,180
50 Macedonia 25,433
Tags
Show More

Amazing Duniya

Amazingduniya.com अज़ब गज़ब रहस्यों और तथ्यों की जानकारी प्रदान करती एक हिंदी website है। जहाँ पर आपको दुनिया की अद्भुत और रोचक घटनायें, अद्भुत रहस्य, रोमांचक कहानियाँ, दुनिया के अनसुलझे और अनजाने रहस्य, दुनिया में Top 10 क्या है, दुनिया में Top 5 क्या है, आदि पढ़ने को मिलेंगी। यहाँ Amazingduniya पर publish होने वाली Stories और Posts ना केवल आपका मनोरंजन करेगी बल्कि पाठकों को दुनिया के विभिन्न अनजाने तथ्यों के बारे में ज्ञानवर्धन में भी सहायक होंगी। हमारी कोशिश रहती है कि हम पाठकों को पढने के लिए Unique और Meaningful सामग्री उपलब्ध करवाएं। मुझे ख़ुशी है कि आप इस वक़्त मेरी website को देख रहे है, इसके लिए मैं आपका शुक्रगुजार हूँ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker